बच्चों की नई कहानियां Motivational story for kids in hindi

 बच्चों की नई कहानियां new motivational story for kids in hindi 

this is new motivational story for kids बच्चों की नई कहानियाँ this is the best moral stories for kids and hindi kids stories read full hindi children story




the new motivational story for kids in hindi

हेल्लो दोस्तों आपका स्वागत है हमरे ब्लॉग himachaljosh.in मे


आज मैं आपके लिए ले के आया हूँ एक शानदार कहानी 


कहानी का शीर्षक है  आलसी बेटा 


यह कहानी एक अमीर साहूकार की है


वह अपनी पत्नी के साथ एक कस्बे में रहा करता था 


और उसके पुत्र का नाम साहिल था 


 वह बहुत ही आलसी था और दूसरी ओर साहूकार


बहुत मेहनती था वह हर रोज शिव मंदिर जाता था 


सुबह सूर्योदय से पहले और उसके बाद वह


अपने खेतों को स्थिर करने के लिए चक्कर लगाता था


खेतों मे ही उसका सारा कारोबार फैला हुआ था। 



साहूकार अपने बेटे से बहुत परेशान था


वह बेटे के आलसी रवैया से परेशान था वह उसे रोज सुबह उठाता 


लेकिन उसका बेटा उठता ही नहीं था


पिताजी रोज सुबह उठाने जाते और वह रोज यही कहता 


कि उठ कर खेतों के काम करें और मेरी सहायता करें


वह रोज कहता ओह ओह आप पिताजी मुझे सोने नहीं देते। 



साहूकार बहुत परेशान हो गया और


कुछ दिनों के बाद अकेले खेतों में चला गया 


वह बहुत बीमार हो गया और जल्द ही उसकी मृत्यु हो गई


अपने पिता की मृत्यु के बाद भी 


साहिल ने उसकी अपने कामों मे दिलचस्पी नहीं ली


अब पिताजी के व्यापार में बड़े पैमाने पर नुकसान हो रहा है


यह देखकर उसकी माँ ने उससे कहा


बेटे हम एक महान नुकसान का सामना कर रहे हैं


तो वह कहता है  मैं इसमें क्या कर सकता हूं?


मुझे व्यवसाय का कोई ज्ञान नहीं है


यहां तक ​​कि मैं कभी खेतों के काम करने नहीं गया। 




माँ ने कहा एक काम करो गाँव मे एक बूढ़ा व्यक्ति रहता  हैं


गाँव मे उसके पास खेती का बड़ा ज्ञान है


माँ कि बात माँ कर वह उसके पास जाता है 


और कहता है कि दादा जी माँ ने कहा है

 

कि मैं आपके पास जाऊ क्योंकि आपके 


पास खेती का सम्पूर्ण ज्ञान है और मेरा 


व्यापार पे बहुत नुकसान हो रहा है 


तो इसके लिए मुझे क्या करना होगा?


तो दादाजी ने कहा क तुम्हें रोज उठकर 


अपने पिताजी की तरह सुरनामस्कार कर 


शिव मंदिर मे पूजा कर के खेतों मे रोज 


काम करने जाना है,वह हर एक चीज 


करनी है जो तुम्हारे पिताजी किया करते थे । 


अगली सुबह से वही किया जो गाँव के दादा जी ने बताया था 

सूर्योदय से पहले जागना शुरू कर दिया


वह पहले मंदिर और उसके बाद खेत गया 


और वह उसकी देखभाल करता है


हर सुबह वह खेतों में जाता 


उसके बाद वह अपनी दुकानों 


मे जाने लगा ऐसा वह रोज करने लगा 


उसे रोज काम पर आते देख उसके नौकर 


हैरान थे कि वह पहले इतना आलसी था 


लेकिन अब वह रोज काम आर आता है 


उसकी मेहनत और परिश्रम के बाल से 


दोबारा वह अमीर हो गए औ व्यापार सही 


चल पड़ा , वह दादा के पास गया और कहने लगा 


कि आपने तो कमाल कर दिया आपके दिखाए रास्तों 


से मेरा व्यापार फिर से लौट आया , तो इपर दादा जी 


कहते हैं कि मैंने कुछ नहीं किया ये सब तो तुम्हारे 


परिश्रम का परिणाम है जो तुम पहले नहीं करते थे 


पहले तुम आलस से सोये रहते थे और कुछ काम


 नहीं करते थे जिससे तुम्हारा ही नुकसान हो रहा था 


moal of the story - इस कहानी से हमे यह सीख मिलती है कि हमे जिंदगी मे आलस नही करना चाहिए अगर हम आलस करेंगे तो हम सब कुछ जिंदगी मे धीरे धीरे खो देंगे 


web tittle - बच्चों की कहानियां mortal storiws mfor kids in hindi

बच्चों की नई हिंदी कहानियां short dtories for kids in hindi

छोटे बच्चों की कहानियां bedtimes stories for kids in hind


बच्चों की हिंदी कहानियां small stories for kids in hindi

बच्चों की नई कहानियां moral stories or kids in hindi

बच्चों की नई नई कहानियां short moral stories for kids in hindi

बच्चों की हिंदी कहानी kids moral stories in hindi

कहानी बच्चों की story in hindi kids

बच्चों के लिए कहानियां panchtantra stories in hindi for kids

बच्चों की नई हिंदी कहानी new story in hindi fr kids

बच्चों का कहानी kid story in hindi download

बच्चों वाली कहानी tiger story for kids

बच्चों के कहानी

बच्चों की अच्छी अच्छी कहानियां

बच्चों की मनोरंजक कहानियाँ

बच्चों की कहानी बच्चों की कहानी

बच्चों कहानी

बच्चों की कहानियां हिंदी में

बच्चों की कहानियाँ पिटारा

छोटे बच्चे की कहानियां

बच्चों की मनपसंद कहानियां

बच्चों की हिंदी नई कहानियां

कहानी बच्चों की कहानी

छोटे बच्चों के लिए कहानियां

बच्चों की कहानियां अच्छी अच्छी

बच्चों की मजेदार कहानियां

बच्चों के लिए हिंदी कहानियां

हिंदी कहानियां बच्चों की

कहानियां बच्चों के लिए

बच्चों के लिए हिंदी कहानी

हिंदी कहानी बच्चों के लिए

हिंदी बच्चों की कहानियां

बच्चों की हिंदी में कहानियां

बच्चों की कहानियां हिंदी


Previous
Next Post »